ट्रेन टिकट कैंसिल कराने से पहले जान लें कैंसिलेशन चार्ज के सारे नियम

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : नई दिल्ली: भारतीय रेल में चार महीने पहले से लोग अपना टिकट बुक करा सकते हैं. लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि लोगों को अचानक प्लान बदलता पड़ता है जिससे उन्हें अपना रेल टिकट भी कैंसिल कराना पड़ता है. भारतीय रेल में टिकट कैंसिल कराने पर कुछ पैसे चार्ज काटकर सारे पैसे वापस कर दिए जाते हैं. यहां जानिए- स्लीपर क्लास से लेकर एसी (फर्स्ट, सेकेंड और थर्ड) क्लास के लिए टिकट कैंसिल कराने पर कितने रुपये का रिफंड मिलता है और कितने रुपये चार्ज कटते हैं.रेलवे में कन्फर्म टिकट ट्रेन के डिपार्टचर से 48 घंटे पहले कैंसिल करवाई जाती है तो एसी फर्स्ट क्लास/ एक्ज्यूटिव क्लास में 240 रूपए कैंसेलेशन चार्ज देना होगा. एसी टू टायर/फर्स्ट क्लास के लिए 200 रूपए, एसी 3 टायर/एसी चेयर कार और एसी इकोनोमी क्लास के लिए 180 रूपए देने होगें. जबकि स्लीपर के लिए 120 और सेकंड क्लास के लिए 60 रूपए कैंसेलेशन चार्ज देना होता है.अगर कंफर्म टिकट के ट्रेन के डिपार्चर से 48 घंटे से 12 घटे के बीच कैंसिल करवाया जाता है तो कैंसेलेशन चार्ज कुल किराए का 25 पर्सेंट देना होता है. ट्रेन के डिपार्चर से 12 से 4 घंटे के के बीच टिकट कैंसिल करवाने पर कुल किराए का 50 पर्सेंट कैंसिलेसन चार्ज देना होता है. डिपार्चर के 4 घंटे के पहले टिकट कैंसिल न करवाने या टीडीआर फाइल नहीं करने पर कोई राशि नहीं लौटाई जाती है.

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …