रेलवे आरक्षण करते समय कभी-कभी 50 से ज्यादा आरएसी और 20 से ज्यादा वेटिंग लिस्ट दिखाता है लेकिन जब ट्रेन के अंदर जाओ तो लगभग ट्रेन खाली रहती है ऐसा क्यों होता है?

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार :ऐसा इसलिए होता है कि एक ट्रेन में बीच के बड़े स्टेशनों से भी कोटे होते हैं। हो सकता है ओरिजिनेटिंग स्टेशन से उनकी बुकिंग पूरी न हो पायी हो।

  • रेलवे के डिवीजनल और जोनल मुख्यालयों के HO (High Official) कोटा होते हैं। वो खाली दिखते हैं।
  • संसद भवन के भी कोटे होते हैं। शायद कभी-कभी वह भी खाली रह जाते हों।
  • ऊपर बताए सारे कोटे चार्ट बनाते समय ही प्रभावी (Implement) किये जाते हैं।
  • तत्काल कोटा आफ सीजन या कम महत्वपूर्ण गाड़ियों के खाली रह जाते हैं।
  • यह भी हो सकता है कि अन्तिम दिन कैंंसेलेशन ज्यादा हो गये हों।

यही सब वजह हो सकती हैं ट्रेन में खाली बर्थ दिखने की। मैंने ये सब जनरल लौजिक से लिखा है। मैं रेलवे रिजर्वेशन सिस्टम से पूरी तरह वाकिफ नहीं हूँ।

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …