दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए निशुल्क कोचिंग

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार :  माता पिता की आय 600000 रुपए से अधिक नहीं हूं कोचिंग शुल्क कोचिंग शुल्क का भुगतान पर पैनल बद कोचिंग सालों से कोचिंग व्यवस्था की जाती है जिसमें तकनीकी व्यवसायिक और सभी प्रकार के पाठ्यक्रम के लिए दिव्यांग जनों को निशुल्क कोचिंग दिया जाता है स्टाईपेंड  कोचिंग कक्षाओं में उपस्थित होने के लिए स्थानीय छात्र को 2500/- रुपए प्रति छात्र की दर से तथा बाहरी छात्रों  को ₹5000 रुपए प्रति छात्र की दर से मासिक स्टाईपेंड  की जाएगी प्रदान की जाएगी विशेष भत्ता एस्कॉर्ट भत्ता सहायक भर्ती आदि हेतु ₹2000 प्रदान करवाई जाती है भारत सरकार के द्वारा स्लाटस की संख्या 2000 रुपए दिए जाते हैं अतिरिक्त दिव्यांगजन अपने अधिकार को जाने और जागरूक बने हमारा प्रमुख उद्देश्य यही है

Check Also

दिव्यांग पति नहीं देगा अपनी अलग रहने वाली पत्नी को गुजारा भत्ता।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कमार : कर्नाटक उच्च न्यायालय ने निचली अदालत के …