PM मोदी की देशवासियों से नई अपील- सख्त अंदाज में बोले- लॉकडाउन को गंभीरता से लें

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. महाराष्ट्र में 15 नए मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं, एक मौत भी हो गई है. कोरोना के खतरे को देखते हुए देश के 10 से ज्यादा राज्यों में लॉकडाउन का ऐलान हो चुका है. कुल 75 शहरों को कड़ी निगरानी में रखा गया है. हालांकि, इसके बावजूद ज्यादातर इलाकों में लोग लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. जनता कर्फ्यू के दौरान भी सड़कों पर भीड़ देखी गई थी. अब प्रधानमंत्री ने एक बार फिर देशवासियों से अपील की है. हालांकि, इस बार प्रधानमंत्री ने थोड़ी सख्त अंदाज में संदेश दिया है. पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा- लोग लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहे हैं, राज्य सरकारें कानून का पालन करवाएं.

क्या है पीएम मोदी की अपील?

लॉकडाउन की स्थिति पर प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लिखा है कि लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें. राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं.

बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से दिल्ली-NCR समेत उत्तर प्रदेश, राजस्थान, ओडिशा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, आंध्र प्रदेश समेत कई राज्यों में लॉकडाउन किया गया है. लेकिन, सोमवार सुबह की स्थिति को देखते हुए कहा जा सकता है कि लोग अभी भी सचेत नहीं हुए हैं. दिल्ली में कई इलाकों में सोमवार सुबह जाम देखा गया है. वहीं, नोएडा एक्सप्रेस-वे पर जाम के हालात अलग हैं. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इसकी गंभीरता को लेकर ट्वीट किया.

जनता कर्फ्यू में भी कुछ जगह सामने आई थी भीड़

लॉकडाउन से पहले रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था, उसमें भी कई लोग सड़कों पर नज़र आए थे. शाम 5 बजे जब कोरोना से लड़ रहे डॉक्टर, पुलिस और मीडियाकर्मियों का आभार व्यक्त करने के लिए थाली और ताली बजाई गई, उस दौरान कई शहरों में लोग सड़कों पर आए और रैली निकालकर तालियां बजाई. इसी के बाद लॉकडाउन को देश के अन्य राज्यों ने भी लागू कर दिया था.दिल्ली में भी कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन लगाया गया है, साथ ही धारा 144 लगाई गई है ताकि एक जगह लोग इकट्ठे ना हो पाएं. अगर देश के मामलों की बात करें तो अभी तक भारत में कोरोना वायरस के 400 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं, जबकि देश में 8 लोगों की मौत इस वायरस की वजह से हुई है.

 

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …