दिव्यांग छात्र ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण आर-सीटी लाभार्थी 

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : दिव्यांग छात्र ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण आर-सीटी लाभार्थी – ग्रामीण क्षेत्रों के 18 से 45 वर्ष के व्यक्ति लाभ का अंश – (1) व्यक्तियों की अभिरूची, योग्यता तथा स्थानीय मांग के अनुरूप स्वरोजगार उपलब्ध कराने हेतु निःशुल्क प्रशिक्षण और मार्गदर्शन दिया जाता हैं। (2) प्रशिक्षण के बाद उम्मीदवारों को संस्थान के द्वारा बैंको के माध्यम से उद्यमिता विस्तार हेतु ऋण उपलब्ध कराया जाता है। (3) प्रमुख ट्रेड निम्नप्रकार है।बेसिक कम्प्यूटर, प्रशिक्षण, टैली, डी.टी.पी, मोटर बाईडिंज, मोटर साईकिल रिपेयरिंग, ड्रेस डिजाइनिंग, धरेलु बिजली उपकरण मरम्मती, कृत्रिम आभुषण, डेयरी, मधुमक्खी पालन, मुर्गीपालन बकरी पालन, वर्मी कम्पोस्ट, जुट उत्पादन, मशरूम खेती, मोमबती कृत्रित, आभुषण, डेयरी, अगरबती,साबुन, ब्यूटिशियन, मल्टी फोन सर्विस प्लेक्स बोर्ड, लेमिनेशन इत्यादि । प्रक्रिया- बिहार राज्य के प्रत्येक जिला में ट्रेनिंग सेंटर बनाया गया है जो निम्न प्रकार है टॉल विकास विभाग बिहार

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …