अब प्राइवेट बैंकों में भी मिलेगी सभी सरकारी योजनाओं का लाभ

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : बैंकिंग सेक्‍टर के लिए आज सरकार ने बड़ी घोषणा की है। इसके अनुसार अब निजी बैंक सरकारी बैंकों के साथ देश के विकास में बराबर के साथी बनेंगे। अब निजी बैंकों पर सरकारी व्यवसाय करने पर लगी रोक हटा ली गई है। सरकार के इस फैसले के बाद उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएँ व सुविधाएं मिलेगी। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार के सामाजिक और वित्तीय समावेश योजनाओं में निजी बैंक भी भागीदार होंगे।सरकार ने बुधवार को प्राइवेट बैंकों पर सरकारी व्यवसाय करने पर लगी रोक हटाने की घोषणा की। वित्तीय सेवा विभाग (DFS) की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में इस बात की जानकारी दी गई है। DFS ने कहा है कि सरकार ने प्राइवेट सेक्टर बैंकों पर सरकारी बैंकिंग लेनदेन से जुड़ी रोक हटा ली है। इन ट्रांजैक्शन्स में टैक्स और अन्य रेवेन्यू पेमेंट की सुविधाएं, पेंशन का भुगतान, स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स इत्यादि शामिल हैं। DFS की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि पहले कुछ प्राइवेट बैंकों को ही सरकार लेनदेन में हिस्सा लेने की अनुमति मिली हुई थी। अब सरकारी व्यवसाय में प्राइवेट बैंकों को हिस्सा लेने की अनुमति देने के बाद उम्मीद की जा रही है कि ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी, प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी और कस्टमर सर्विसेज के मानक और बेहतर होंगे।

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …