भारतीय डाक विभाग की इस योजना से दिव्यांगों को मिलेगा हर प्रकार से लाभ।

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : भारतीय डाक विभाग की इस योजना से दिव्यांगों को मिलेगा हर प्रकार से लाभ डाक विभाग समय से साथ चलने के लिए किसी भी दौड़ में पीछे नहीं रहा है. उपभोक्ताओं को लाभ पहुंचाने के लिए पहले इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक और फिर एटीएम की सुविधा उपलब्ध करवाई थी. अब डाक विभाग बीमा पॉलिसी की ओर भी अग्रसर हो रहा है. विभाग ने ग्राहकों के लिए ग्रुप एक्सीडेंटल गार्ड पॉलिसी भी शुरू कर दी है. इसके लिए भारतीय डाक विभाग के बैंक इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का टाटा एआईजी इंश्योरेंस के साथ टाइअप हुआ है, जिसमें डाकघर ने ग्राहकों के लिए 299 और 399 दो प्रकार का वार्षिक प्रीमियम शुरू किया है. 299 रुपये के वार्षिक प्रीमियम पर दुर्घटनावश मृत्यु , दुर्घटनावश स्थाई विकलांगता, आंशिक विकलांगता, अंग-विच्छेद, पैरालाइसिस होने पर 10 लाख रुपये का बीमा लाभ मिलेगा. पोस्ट मास्टर ब्यावर गोविंदराम सेन ने बताया कि इसके अलावा दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं से होने वाली शारीरिक-आर्थिक बाधाओं को लेकर 60 हजार रुपये तक की चिकित्सा व्यय आईपीडी और 30 हजार रुपये तक की चिकित्सा व्यय ओपीडी का लाभ ले सकेंगे. इतना ही नहीं, प्रीमियम का लाभ लेने वाले अगर अपने बच्चों को भी बीमा कवर का लाभ दिलवाना चाहते हैं, तो इसके लिए उन्हें 399 रुपये का बीमा प्रीमियम लेना होगा. इसमें प्रीमियम लेने वाला लाभार्थी अधिकतम 2 बच्चों को शिक्षा के लिए 10 प्रतिशत का लाभांश मिलेगा. साथ हीं, अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान हर रोज 1 हजार रुपये प्रतिदिन और अधिकतम 10 हजार रुपये मरीज को मिलेगा. इसमें परिवहन संबंधी और अंतिम संस्कार संबंधी लाभ भी कवर होगा. इसका लाभ लेने के लिए लोगों को पहले शून्य बैलेंस पर डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक में खाता खुलवाना होगा.

Check Also

दिव्यांग पति नहीं देगा अपनी अलग रहने वाली पत्नी को गुजारा भत्ता।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कमार : कर्नाटक उच्च न्यायालय ने निचली अदालत के …