कोल इंडिया में काम करने वाले अधिकारियों के दिव्यांग बच्चों को मिला सौगात अब मिलेगा जिंदगी भर मुफ्त इलाज।

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार :कोल इंडिया प्रबंधन ने 448 वीं बोर्ड की बैठक में अहम निर्णय लेते हुए सेवारत एवं सेवानिवृत्त कोयला अधिकारियों के दिव्यांग बच्चों सीपीआरएमएसई के तहत आजीवन चिकित्सा सुविधा देने का निर्णय लिया है। जो दिव्यांग बच्चे आर्थिक रुप से माता-पिता पर निर्भर हैं। अब उनकी चिकित्सा व्यवस्था कोल इंडिया सीपीएमआरएमएसई स्कीम के तहत करेगी कोल माइंस ऑफिसर्स एसोसिएशन पहले 25 साल तक उम्र के ही दिव्यांग बच्चों को उक्त स्कीम के तहत चिकित्सा सुविधा का लाभ था। अब आजीवन निःशुल्क इलाज करा सकेंगे। मालूम हो उक्त स्कीम में गंभीर रोगों के इलाज में खर्च की सीमा नहीं है। आदेश के तहत कोल इंडिया की ओर से सभी अनुषंगी कंपनियों को फार्मेट भेजा गया है जिसमें सेवारत एवं सेवानिवृत्त अधिकारियों के दिव्यांग बच्चों का आंकड़ा मांग गया है। ताकि स्कीम में दिव्यांग बच्चों का नाम जोड़ा जा सके। यह सुविधा कोल कंपनियों के गैर अधिकारियों के लिए पहले से थी। अधिकारियों के दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रही थी।ने इसके लिए कोल इंडिया चेयरमेन से मुलाकात कर पहल की मांग की थी। आदेश जारी होने पर बीसीसीएल सीएमओएआई के अध्यक्ष अरुणकुमार सिंह समेत कमेटी ने कोल इंडिया चेयरमेन प्रमोद अग्रवाल, बीसीसीएल सीएमडी समीरन दत्ता समेत निदेशकगण के प्रति आभार जताया है।

Check Also

हीमोफीलिया बीमारी से क्या होता है।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज सौरभ कुमर : बिहार में विश्व हीमोफीलिया दिवस मनाया जाता …