दिव्यांग थैलेसीमिया जैसे गंभीर बीमारियों से पीड़ित पेशेंट को किया जा रहा है परेशान क्या करें बेबस इंसान।

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : एचआईवी, थैलेसीमिया जैसे गंभीर बीमारियों से पीड़ित पेशेंट अपने जिलों से ब्लड नहीं मिलने पर पीएमसीएच एक उम्मीद लेकर आते हैं कि उन्हें यहां राहत मिलेगी, लेकिन पीएमसीएच डे केयर में एक नोटिस चिपका दिया गया है. उस नोटिस में पेशेंट को अपने जिला अस्पताल से ब्लड लेने के लिए कहा गया है. इस वजह से पीड़ित बच्चे बिना ब्लड के वापस जा रहे हैं बैंक कर्मी थैलेसीमिया पीड़ित पेशेंट को दूसरे ब्लड बैंक से ब्लड लाने के लिए ये कहकर चलता कर दे रहे हैं. ब्लड की मांग करने पर कर्मी कह रहे हैं कि अभी ब्लड उपलब्ध नहीं हैं. अगर जल्दी ब्लड चाहिए तो कुर्जी होली फैमली अस्पताल के ब्लड बैंक से मिलेगा, वहीं जाकर ब्लड ले लीजिए. बता दें कि दूसरे ब्लड बैंक से ब्लड लाने के लिए पीएमसीएच में डे केयर बनाया गया है।

पीएमसीएच के ब्लड बैंक में लगे नोटिस को लेकर बिहार स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी के अतिरिक्त परियोजना निदेशक डॉ. एनके गुप्तां से सर्वप्रथम न्यूज़ के रिपोर्टर ने बातचीत की. पेश है मुख्य अंश…..

रिपोर्टर- सर पीएमसीएच में थैलेसीमिया पीड़ितों को ब्लड नहीं मिल रहा है।

निदेशक- सभी को ब्लड मिल रहा है. रिपोर्टर सीवान से आई एक महिला को ब्लड लेने में परेशानी हुई है.

निदेशक जिलों में ब्लड बैंक है, वहां उन्हें आसानी से ब्लड मिल जाएगा.

रिपोर्टर- जिलों में पूरा ब्लड मिलता है, और पीएमसीएच में प्लाज्मा निकालकर

निदेशक- जिलों में भी प्लाज्मा निकला हुआ ब्लड मिल सकता है

रिपोर्टर वहां नहीं मिला इसलिए यहां आई है।

निदेशक महिला को लिखित शिकायत करनी चाहिए –

रिपोर्टर- पीएमसीएच ब्लड बैंक कर्मी दूसरे ब्लड बैंक से लोगों को ब्लड लाने के लिए कहते हैं

निदेशक डे केयर की व्यवस्था है. ऐसा नहीं हो सकता है. -रिपोर्टर पीएमसीएच डे केयर में नोटिस लगा है कि गृह जिला में ही ब्लड मिलेगा

निदेशक इसकी जानकारी नहीं है.

रिपोर्टर- यहां ब्लड मिलेगा की नही

निदेशक यहां जो भी आएंगे उन्हें ब्लड मिलेगा.

 

 

Check Also

आवश्यक सूचना दिव्यांगों के लिए दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 के अंतर्गत।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार :पटना मुख्यमंत्री दिव्यांगजन सशक्तीकरण छत्र योजना का …