रीड की हड्डी की दिव्यांगता होगी समाप्त।

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : वॉशिंगटन वैज्ञानिकों ने क्षतिग्रस्त न्यूरॉन्स को फिर से बनाने में कामयाबी हासिल की है। इससे रीढ़ की हड्डी में लगी चोट की वजह से आई दिव्यांगता को दूर किया सकेगा। नेचर में प्रकाशित रिसर्च रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने बताया है कि क्षतिग्रस्त न्यूरॉन्स के पुनर्निमाण में बड़ी कामयाबी मिली है।शोधार्थियों ने इसका चूहों पर प्रयोग किया, जो सफल रहा है। रीढ़ की हड्डी में लगी चोट की वजह से दिव्यांग हुआ चूहा वैज्ञानिकों की इलाज पद्धति से फिर से चलने लगा। न्यूरान्स दिमाग से मिले संकेताओं को पूरे शरीर में पहुंचाने में संचार प्रणाली की तरह काम करते हैं। चोट या अन्य किसी वजह से रीढ़ की हड्डी के न्यूरॉन्स के क्षतिग्रस्त होने से यह संचार प्रणाली बाधित हो जाती है, जिससे दिव्यांगता की स्थिति बनती है।

Check Also

आयुष्मान कार्ड नहीं है फिर भी क्या हम मुफ्त इलाज ले सकते हैं।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : आयुष्मान कार्ड जो दिव्यांगों के पास नहीं …