कदाचारों के भेंट चढ़ गया बच्चों को सदाचार सीखलाने वाले दिव्यांग गुरु।

सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार : बिहार शिक्षक बहाली 2023 विज्ञापन संख्या23/2023 में दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 का हो रहा है खुलेआम उल्लंघन यह सभी बातें तब घटित हो रही है जो सामाजिक कल्याण अधिकारिता मंत्रालय बिहार सरकार के प्रधान सचिव रह चुके हैं और दिव्यांगों की अगवाई कर चुके हैं कई वर्षों तक और यह बहाली प्रतिक्रिया भी उन्हीं के नेतृत्व में हो रही है फिर इतना बड़ा कदाचार क्यों हो रहा है इसके लिए कौन जिम्मेदार भारत का प्रत्येक दिव्यांग इस बात को ध्यान से सोचे जब दिव्यांगों का रक्षक ही दिव्यांगों का भक्षक बन जाएगा तो दिव्यांग कहां से न्याय पाएगा सबसे बडी बात यह है सरकार के कमी को पकड़ना जरुरी है (1) प्राथमिक विद्यालय मे. 79943 सीट के बाद ही अलग से दिव्याग का 3199 सीट है (2) उसी प्रकार हांई स्कूल मे 32916. सीट के बाद ही दिव्याग का 1290 सीट है (3) इंटर  मे भी 57602.के बाद ही दिव्याग का 2264  सीट है टोटल मिलाकर दिव्याग का सीट 6753. हो रहा है इसपर एक भी सीट पर रिजल्ट नही दिया गया है यह।170461 सीट के बाद अलग से 6753 सिट पर सिर्फ दिव्याग का है जो की रिजल्ट नही आया है विभाग से बिहार का दिव्यांग यही निवेदन करता है कि यह जीवन की अंतिम पढ़ाई थी जिससे कि हम समाज की प्रमुख धारा से जुड़ सकते थे आत्मनिर्भर और स्वावलंबी बन सकते थे मेरे साथ इतना बड़ा अनियमिता मत कीजिए हमारे जीवन से खिलवाड़ मत कीजिए।

Check Also

आवश्यक सूचना दिव्यांगों के लिए दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 के अंतर्गत।

🔊 Listen to this सर्वप्रथम न्यूज़ सौरभ कुमार :पटना मुख्यमंत्री दिव्यांगजन सशक्तीकरण छत्र योजना का …